Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

सन ऑफ मल्लाह मुकेश सहनी को बीजेपी से झगड़ा लेना पड़ा भारी, राज्य मंत्रिमंडल से हटाए गए

0 199

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी का प्रकरण थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब खबर है कि मुकेश सहनी नीतीश मंत्रिमंडल का हिस्सा नहीं रहे । उन्हें हटाने के लिए सीएम नीतीश कुमार ने भाजपा के पत्र पर राज्यपाल फागू चौहान से उन्हें राज्य मंत्रिमंडल से पदमुक्त करने की सिफारिश कर दी।

वहीं राजभवन से ऐसी जानकारी सामने आई है कि राज्यपाल ने मुख्यमंत्री की सिफारिश पर सहनी को बिहार कैबिनेट से पदमुक्त करने की मांग पर अपनी मुहल लगा दी है। हालांकि देर रात तक मीडिया को इसकी कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी। माना जा रहा है कि आज इसको लेकर अधिकारिक ऐलान कर दिया जाएगा। साथ ही सहनी अपना इस्तीफा भी सौंप सकते हैं।

आपको बता दें कि बिहार की राजनीति में मुकेश सहनी बिल्कुल अकेले पड़ गए हैं। उनकी पार्टी के पास न तो अब कोई विधायक है और न ही विधान परिषद में उनके अतिरिक्त कोई दूसरा सदस्य है। विपक्षी पार्टियों से भी उनके रिश्ते ज्यादा बेहतर नहीं रहे हैं। सहनी जुलाई तक ही विप सदस्य हैं। जो स्थिति है, उसमें न तो एनडीए और महागठबंधन की तरफ से उन्हें दोबारा विप चुनाव में समर्थन देने में दिलचस्पी दिखाना पसंद करेगी ऐसे में मंत्री पद से हटाए जाने के बाद मुकेश सहनी के लिए अपनी आगे की राजनीति का सफर अब अकेले ही तय करना होगा।

इससे पहले मुकेश सहनी के तीन विधायक भाजपा में शामिल होने के बाद से ही उन्हें मत्री पद से हटाने की अटकलें चल रही थी। नीतीश चाह रहे थे कि मुकेश सहनी स्वयं इस्तीफा दे दें, लेकिन मुकेश सहनी द्वारा इस्तीफा नहीं देने पर नीतीश सरकार ने बर्खास्त का फैसला लिया है। इसके लिए सीएम नीतीश ने राज्यपाल को पत्र लिखा है। मुकेश सहनी नीतीश सरकार में पशुपाल एवं मत्स्य मंत्रालय के मंत्री हैं।

आपको बता दें 23 मार्च को वीआईपी पार्टी के तीनों विधायकों को बीजेपी ने इस्तीफा देने के बाद अपनी पार्टी में शामिल कर लिया था । उसी समय से मुकेश सहनी के मंत्रालय को लेकर तलवार लटक रही थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.