Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

MLC चुनाव पर विशेष रिपोर्ट: वार्ड सदस्य ने कहा कि ‘माल’ मिल चुका है,60 से 90 हजार के बीच हो चुकी है बात

0 368

 

जे.पी.चन्द्रा की विशेष रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में पंचायत का चुनाव समाप्त हो चुका है। लेकिन अभी एक महत्वपूर्ण चुनाव होना बाकी है। वह चुनाव है एमएलसी का। यानी की विधानपरिषद सदस्य का। बिहार में 24 MLC का चुनाव होना है। लेकिन खबर यह है कि इस चुनाव में अभी से ही भ्रष्टाचार का खेल शुरू हो गया है। नोट के बदले वोट की चारों तरफ चर्चा है।

रुपये

सूत्रों के मुताबिक एक-एक वोट का सौदा 60 हजार रुपये में किया जा रहा है। प्रत्याशी गांव-गांव दौड़ भाग कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि वोट के बदले अडवांस में ही रकम दी जा रही है और पंचायत प्रतिनिधियों को सर्टिफिकेट गिरवी रखे जा रहे हैं। एक प्रतिनिधि ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि 70 फीसदी सर्टिफिकेट जमा हो चुके हैं और अब केवल 30 फीसदी बचे हैं।

वहीं औरंगाबाद में इसकी बात करें तो एक प्रतिनिधि ने कहा कि जो ज्यादा रकम देगा सर्टिफिकेट उसी को दिया जाएगा। हालांकि जो लोग सर्टिफिकेट दे चुके हैं अब वे और तोल-मोल नहीं कर सकते। हालांकि कोई भी प्रतिनिधि मीडिया के सामने आकर नहीं बयान देना चाहता है ।

चुनाव

आपको बता दें कि इस चुनाव में एमएलसी के अलावा सांसद, विधायक औऱ पंचायत प्रतिनिधि वोटर होते हैं। हालांकि सरपंच और पंच इसमें नहीं शामिल होते हैं। वार्ड सदस्य इसमें वोटिंग करते हैं।

अगर बिहार के एक जिले औरंगाबाद की बात करें तो यहां 2800 वार्ड सदस्य हैं जबकि 204 पंचायते हैं। इसीलिए वार्ड सदस्य का वोट अहम हो जाता है। जानकारों का कहना है कि अब इस चुनाव में 15 से 20 करोड़ रुपये खर्च किए जाते हैं।

हमने कई वार्ड के सदस्यों से बात की तो उन सभी का कहना है कि उनके सर्टिफिकेट जब्त हो चुका है अर्थात् वे सभी एमएलसी प्रत्याशियों को सर्टिफिकेट दे चुके हैं और वे उन्हें ही वोट करेंगे । उन्हें इसके एवज में पैसे भी मिल चुके हैं । लेकिन वे सभी किसी भी प्रकार से ऑन कैमरा नहीं स्वीकार करते हैं कि इस तरह की बात है। क्योंकि उनकी भी मजबूरी है।

नोट: मेरी यह रिपोर्ट ऑफ रिकॉर्ड और गुप्त वार्ता पर आधारित है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.