Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

बिहार: शिक्षा विभाग का अहम् फैसला,अब स्कूलों में 33 प्रतिशत शिक्षक ही होंगे उपस्थित

बिहार में कोरोना की बढ़ती संक्रमण को लेकर राज्य सरकार कई फैसले ले रही है. ताकि कोरोना की बढ़ती संक्रमण पर काबू पाया जा सके

0 119

बिहार नेशन: बिहार में कोरोना की बढ़ती संक्रमण को लेकर राज्य सरकार कई फैसले ले रही है. ताकि कोरोना की बढ़ती संक्रमण पर काबू पाया जा सके. अब राज्य सरकार के ताजा फैसले के अनुसार स्कूलों में आनेवाले शिक्षकों की संख्या एक दिन में निर्धारित कर दी गई है. अब मात्र 33 प्रतिशत शिक्षक ही एक दिन में स्कूल आ सकेंगे. फिर अगले दिन इतने ही प्रतिशत शिक्षक जा सकेंगे. मतलब साफ़ है कि इसी प्रक्रिया को बार–बार अपनाया जाएगा. बता दें कि यह निर्णय कोरोना संक्रमण से मरीजों की बढ़ती संख्या के बाद लिया गया है.

दरअसल शिक्षकों ने यह मांग की थी कि जब स्कूल में पढाई ही नहीं हो रही हैं तो फिर शिक्षकों को वहाँ क्यों भेजा जा रहा है. अब इसी सवाल पर सरकार का निर्णय आया है कि शिक्षक स्कूल तो आएँगे जरूर लेकिन एक दिन में 33 प्रतिशत शिक्षक ही जाएंगे बाकी दुसरे दिन.यह भी निर्देश दिया गया है कि इस दौरान स्कूल के पेंडिंग कार्यों का निपटारा और जमीन सम्बन्धी कागजात का भी स्कूल के हेडमास्टर और वरीय शिक्षक निपटारा करेंगे. शिक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि मौजूदा हालात को देखते हुए 18 अप्रैल के बाद भी स्कूल खुलने की संभावना कम ही है.

corona.

आपको बता दे कि कुछ दिन पहले बिहार सरकार ने क्राईसेस मैनेजमेंट मीटिंग में यह निर्णय लिया है कि सभी स्कूल 18 अप्रैल तक बंद रहेंगे. मतलब स्कूल तो खुलेंगे लेकिन पढ़ाई करने बच्चे नहीं जा सकेंगे. साथ ही सभी दूकानदारों को यह निर्देश दिया गया है कि वे शाम 7 बजे के बाद दूकान बंद कर दें . अगर इस समय के बाद कोई दूकान खुला पाया जाता है तो उसे सील कर दिया जाएगा.

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.