Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

मोदी कैबिनेट में चिराग की एंट्री पर जेडीयू ने साधी चुपी,RCP सिंह ने कहा-दुसरे के बारे में नहीं पता

कोरोना संक्रमण की रफ्तार भले ही धीमी पड़ गई हो लेकिन केंद्र से लेकर राज्यों तक की सियासत ने रफ्तार पकड़ ली है। केंद्रीय मंत्रीमंडल के विस्तार की चर्चा जोरों पर है।

3 94

जे.पी.चन्द्रा की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट

बिहार नेशन: कोरोना संक्रमण की रफ्तार भले ही धीमी पड़ गई हो लेकिन केंद्र से लेकर राज्यों तक की सियासत ने रफ्तार पकड़ ली है। केंद्रीय मंत्रीमंडल के विस्तार की चर्चा जोरों पर है। खबर यह है कि अब जेडीयू ने भी अपना स्टैंड क्लियर कर दिया है कि मंत्रीमंडल में शामिल होगी . हालांकि यह बात जेडीयू ने शनिवार को ही साफ़ कर दिया था कि अगर केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार होता है तो जेडीयू उस मंत्रिमंडल का हिस्सा बनेगी । इस बात को रविवार को एक बार फिर से पार्टी के कद्दावर नेता आरसीपी सिंह ने दुहराया है। उन्होंने कहा कि जेडीयू पार्टी एनडीए का हिस्सा है और अगर मंत्रिमंडल में कुछ फेरबदल होता है तो पार्टी उसमें शामिल होगी।

लेकिन सबसे बड़ा सवाल केंद्रीय मंत्रिमंडल की विस्तार को लेकर यह है की क्या एलजेपी इस मोदी मंत्रिमंडल का हिस्सा बनेगी । इस बात का सवाल पूछने पर आरसीपी सिंह ने चुपी सध ली। चिराग पासवान की एंट्री मोदी कैबिनेट में होगा या नहीं यह सबसे बड़ा सवाल लोगों के जेहन में तैर रहा है । क्योंकि जिस तरह से एलजेपी ने बिहार विधानसभा चुनाव में जेडीयू को नुकसान पहुंचाया था उससे जेडीयू बहुत नाराज है।

जब बिहार में विधानसभा चुनाव के नतीजे आए थें तो उस समय कई जेडीयू नेताओं ने खुले तौर पर कहा था कि अगर केंद्रीय मंत्रिमंडल में चिराग पासवान को लिया जाता है तो यह एनडीए के लिये ठीक नहीं होगा। यहाँ तक धमकी दी गई थी की अगर उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल किया जाता है तो जनता आगे का फैसला लेने को लेकर स्वतंत्रत है। माना जा रहा है कि तभी से मामला अटका हुआ है।  वहीं जब चिराग पासवान के कैबिनेट में शामिल होने कि संभावनाओं के बीच जेडीयू के वरिष्ठ नेता आरसीपी सिंह से पूछा गया तो उन्होंने साफ़ कह दिया की वे नहीं कह सकते हैं कि वे शामिल होंगे या नहीं ।

जेडीयू नेता आरसीपी सिंह यहीं नहीं रूके । उन्होंने कहा कि वे अपनी पार्टी के बारे में बता सकते हैं । दूसरे के बारे मे वे कोई जानकारी नहीं दे सकते हैं ।  वहीं जब उनसे यह पूछा गया की उनकी पार्टी को कितनी जगह इस मंत्रिमंडल में मिलने जा रही है तो उन्होंने कहा कि हम एक दूसरे का सम्मान करते हैं । हमलोग सहयोगी हैं और सहयोग का मतलब सम्मान करना होता है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.