Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

बिहार में पंचायत चुनाव को लेकर हो रही देरी का कारण है M-2 EVM और M-3 EVM, समझें क्या है यह !

बिहार के पंचायत चुनाव में ईवीएम को लेकर असमंजस की स्थिति बरकारार है. हालांकि ईवीएम मशीन को लेकर जारी विवाद में राज्य सरकार ने कहा कि इसे लेकर राज्य निर्वाचन आयोग का स्टैंड पुरी तरह से साफ़ है

1 248

बिहार नेशन: बिहार के पंचायत चुनाव में ईवीएम को लेकर असमंजस की स्थिति बरकारार है. हालांकि ईवीएम मशीन को लेकर जारी विवाद में राज्य सरकार ने कहा कि इसे लेकर राज्य निर्वाचन आयोग का स्टैंड पुरी तरह से साफ़ है और भारत निर्वाचन आयोग का आदेश अस्वीकार है.पंचायती राज मंत्री ने कहा चुनाव ईवीएम मशीन से ही कराया जाएगा. इससे पीछे  हटने का सवाल ही नही है.

VOTERS

इस मामले में राज्य निर्वाचन आयोग का कहना है कि वह एम थ्री इवीएम से पंचायत चुनाव कराएगा। इसमें एक इवीएम में छह श्रेणी के पदों के लिए मतदान की सुविधा होती है।  राज्य निर्वाचन आयोग ने इस श्रेणी की ईवीएम के लिए निर्माता कंपनी इलेक्ट्रॉनिक कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड से बातचीत भी कर ली है। लेकिन, इसके लिए भारत निर्वाचन आयोग की इजाजत चाहिए। वह नहीं मिल रही है। जबकि भारत निर्वाचन आयोग की राय है कि बिहार एम टू ईवीएम से चुनाव करा ले। यह उपलब्ध भी है। इसमें हरेक मशीन के लिए अलग कंट्रोल यूनिट है।

आपको बता दें कि पंचायत चुनाव इवीएम से कराने को लेकर केन्द्रीय निर्वाचन आयोग और राज्य निर्वाचन आयोग की बीच हाई कोर्ट में विवाद चल रहा है. इस मामले में कोर्ट ने दोनों को आपस में बैठकर समझौता कर हल निकालने को कहा है. इस मामले में अगली सुनवाई छह अप्रैल को होनी है.अगर इस मामले में दोनों के बीच कोई रास्ता निकलता है तो जल्द ही चुनाव की तारीखों का एलान हो सकता है,नहीं तो चुनाव में देरी भी हो सकती है.

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.