Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

जीतन राम मांझी और तेज प्रताप के बीच 40 मिनट तक चली मुलाक़ात,कयासों का दौर शुरू

इस वक्त राजनीतिक गलियारे से बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है।  दो पार्टियों के विरोधी नेता जो कभी एक दूसरे के बारे में खिलाफ बोलते रहे हैं शुक्रवार को मुलाकात की

2 174

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: इस वक्त राजनीतिक गलियारे से बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है।  दो पार्टियों के विरोधी नेता जो कभी एक दूसरे के बारे में खिलाफ बोलते रहे हैं शुक्रवार को मुलाकात की । दरअसल पूर्व सीएम जीतन राम मांझी और लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव के बीच लगभग 40 मिनट के आस-पास एक बंद कमरे में बातचीत हुई । इस मुलाकात के बाद दोनों नेता मीडियाकर्मियों से मुखातिब हुए । जब इस मुलाकात के बारे में लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव  से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उनका मन किया तो मांझी अंकल से मिलने चले आए । उन्होंने आगे कहा की वे युवाओं को राजनीती मे आगे लाकर जोड़ना चाहते हैं इस योजना पर जीतन राम मांझी से बातचीत उन्होंने की है ।

तेज प्रताप यादव ने कहा कि वे चाहते हैं की सभी पार्टियां युवाओं को मौका देकर आगे लाएं। इससे पहले मांझी के बारे में तेज प्रताप यादव ने कहा था कि अगर जीतन राम मांझी महा गठबंधन मे आते हैं तो उनका स्वागत है । लेकिन मांझी ने इस बात को सिरे से खारिज कर दिया था और कहा था कि वे अभी एनडीए में हैं और वहीं रहेंगे । दूसरे जगह जाने का सवाल ही नहीं उठता है।

वहीं इस मुलाकात पर मांझी ने कहा की वे मिलने आए हमे बहुत अच्छा लगा वो भी आज लालू जी का आज जन्मदिन है। लेकिन उन दोनों के बीच कोई राजनीतिक बातचीत नहीं हुई है। हमलोग के बीच राजनीतिक मुद्दों को छोड़कर सामाजिक मुद्दे पर चर्चा हुई है और यह होते रहना चाहिए । मांझी ने कहा कि अगर युवाओं को राजनीतिक प्रशिक्षण देने के लिये और आगे लाने के लिये कोई संस्थान बनता है तो सभी राजनीतिक दलों को साथ देना चाहिए ।

मांझी बोले कि वे अभी एनडीए में मजबूती के साथ हैं और कहीं दूसरे जगह जाने का सवाल ही नहीं पैदा होता है। हालांकि राजनीति में माँ- बेटा , भाई-भाई भी अलग हो जाते हैं । जीतन राम मांझी ने कहा हमारे यहाँ लालू जी और तेजस्वी यादव भी आते रहते हैं । ऐसे में अगर तेज प्रताप यादव आएं हैं तो उन्हें खुशी हुई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.