Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

कल से शुरू होनेवाले बिहार विधान मंडल के इस 5 दिन के मानसून सत्र में क्या-क्या होगा ख़ास,पढ़ें ये रिपोर्ट

मानसून सत्र के दौरान विपक्ष जनहित के सवालों पर सरकार को घेरने की पूरी कोशिश करेगा कई जनहित के मुद्दों पर विपक्ष की तरफ से कार्य स्थगन प्रस्ताव दिए जाने की रणनीति भी होगी.

0 104

जे.पी.चन्द्रा की विशेष रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार विधान मंडल का मानसून सत्र कल से शुरू हो रहा है. ऐसे में लोगों की इस सत्र से काफी उम्मीदें हैं. हालांकि इस सत्र के शुरू होने से पहले ही कई कयास लगाए जाने लगे हैं. लोगों के मन में यह भी प्रश्न उठने लगा है कि क्या यह सत्र भी पिछली बार की तरह हंगामें और तानाशाही की भेंट तो नहीं चढ़ जाएगा.  बता दें कि यह मानसून सत्र 26 जुलाई से शुरू होगा जो 30 जुलाई तक चलेगा. यानी कि यह मानसून सत्र 5 दिनों तक चलेगा. इस छोटे से सत्र के दौरान कई विधेयकों को पास कराने की प्राथमिकता भी होगी. इसके साथ ही वित्तीय कार्य एवं प्रश्नोत्तर काल शून्यकाल भी होगा.

मानसून सत्र के दौरान विपक्ष जनहित के सवालों पर सरकार को घेरने की पूरी कोशिश करेगा.  कई जनहित के मुद्दों पर विपक्ष की तरफ से कार्य स्थगन प्रस्ताव दिए जाने की रणनीति भी होगी. लेकिन सदन में किन मुद्दों पर चर्चा हो पाएगी. यह शुरुआत के बाद ही मालूम पड़ेगा. विधानसभा सत्र के पहले दिन सदन में दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि दी जाएगी. सत्र की शुरुआत विधानसभा अध्यक्ष के प्रारंभिक संबोधन से होगा.

इसके बाद सदन में राज्यपाल द्वारा स्वीकृत आदेशों की प्रतियों को रखा जाएगा.  विधानसभा में अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा सदन संचालन के लिए कार्य मंत्रणा समिति का गठन करेंगे. इसके अलावा अभ्यासी सदस्यों का मनोनयन भी किया जाएगा. उसके बाद कार्यवाही 27 जुलाई तक के लिए स्थगित हो जाएगी.   27 और 28 जुलाई को सदन में राजकीय विधेयक के पेश किए जाएंगे. 29 जुलाई को वित्तीय वर्ष 2021 22 के प्रथम अनुपूरक बजट पर चर्चा और उससे जुड़े विनियोग विधेयक का दिन रखा गया है. 30 जुलाई यानी सत्र के आखिरी दिन गैर सरकारी संगठन लिए जाएंगे.

मानसून सत्र में सरकार की तरफ से तीन नए विधेयक पेश होंगे. जबकि तीन विधेयकों में संशोधन का है. इन विधेयकों में बिहार पंचायती जुलाई राज संशोधन विधेयक 2021, बिहार खेल का मान विश्वविद्यालय विधेयक 2021, आर्यभट्ट दिनों के ज्ञान विश्वविद्यालय (संशोधन) विधेयक राजकी 2021, बिहार राजकोषीय उत्तरदायित्व एवं गए हैं। बजट प्रबंधन (संशोधन) विधेयक, बिहार 22 का अभियंत्रण विश्वविद्यालय विधेयक 2021 जुलाई बिहार स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय इसके विधेयक 2021 और बिहार माल एवं सेवा के अंतिम कर (संशोधन) विधेयक 2021 शामिल हैं.

विधानसभा में 26 जुलाई को वित्तीय वर्ष 2021-22 का प्रथम अनुपूरक पेश किया जाएगा. जबकि 29 जुलाई को इस पर चर्चा होगी और उसके बाद मतदान. इसके बाद सदन में विनियोग विधेयक पेश किया जाएगा. सत्र के अंतिम दिन 30 जुलाई को सदन में सदस्यों की तरफ से गैर सरकारी संकल्प लाए जायेंगे.

वहीं बिहार विधान परिषद में भी सोमवार को सदन की कार्यवाही शुरू होगी. यह सदन की कार्यवाही सुबह 11 बजे से शुरू होगी. लेकिन बता दे कि कार्यवाही शुरू होने से पहले कार्यकारी सभापति का संबोधन होगा. खैर इस बार राज्य के लोगों को इस मानसून सत्र से काफी उम्मीदें हैं.

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.