Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

रेलमंत्री बनते ही एक्शन में आए अश्विनी वैष्णव,अब दो शिफ्टों में काम करेंगे स्टाफ

। आपको बता दें कि पूर्व नौकरशाह अश्विनी वैष्णव ने बुधवार को मंत्री पद की शपथ ली थी। उन्हें रेल मंत्रालय के साथ ही साथ सूचना एवं प्रौद्योगिकी की भी जिम्मेदारी दी गई है.

0 146

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: मोदी कैबिनेट के मंत्रीमंडल विस्तार का असर दिखने लगा है। सभी मंत्री अपने -अपने विभागों की व्यवस्था की सुधार करने में जुट गये हैं । नये दिशा-निर्देश अपने विभाग के लिये जारी किये जा रहे हैं ताकि विकास की कार्यों में तेजी लाई जा सके ।कुछ ऐसा ही बदलाव रेलवे में की गई है। नए रेल मंत्री अश्व‍िनी वैष्णव ने गुरुवार को अपना कार्यभार संभाला। लेकिन कार्यभार संभालते ही उन्होंने सबसे पहले कर्मचारियों के काम करने का समय ही बदल दिया। अब रेलवे के स्टाफ दो शिफ्टों में कार्य करेंगे । ये स्टाफ सुबह 7:00 बजे से लेकर रात 12:00 बजे तक काम करेगें।

हालांकि रेल मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि अभी यह आदेश सिर्फ रेल मंत्री के कार्यालय के अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए। लेकिन आगे इसका विस्तार हो सकता है। आपको बता दें कि पूर्व नौकरशाह अश्विनी वैष्णव ने बुधवार को मंत्री पद की शपथ ली थी। उन्हें रेल मंत्रालय के साथ ही साथ सूचना एवं प्रौद्योगिकी की भी जिम्मेदारी दी गई है.

गौरतलब है कि इससे पहले रेल मंत्रालय का जिम्मा पीयूष गोयल के पास था, जिन्हें अब कपड़ा मंत्रालय दे दिया गया है. कपड़ा मंत्रालय संभाल रहीं स्मृति ईरानी को अब महिला एवं बाल विकास मंत्री बनाया गया है. शिक्षा मंत्रालय का जिम्मा धर्मेंद्र प्रधान को दिया गया है तो अब हरदीप सिंह पुरी पेट्रोलियम मंत्री बनाए गए हैं.

अश्विनी वैष्णव मूल रूप से राजस्थान के जोधपुर के रहने वाले हैं। साल 1994 बैच के आईएएस अधिकारी वैष्णव को सबसे पहले बालासोर का डीएम बनाया गया था। वह नवीन पटनायक के करीबी और पसंदीदा अधिकारियों में से एक थे। इसलिए जब वह सीएम बने तो उन्हें सबसे पहले ओडिशा के महत्वपूर्ण शहर कटक का कलेक्टर बनाया गया था। यहां उन्होंने कई बदलाव किए, जिसमें कानून-व्यवस्था दुरुस्त करना भी शामिल है।

आपको बता दें अश्विनी वैष्णव बीजेपी के ओडिशा से सांसद हैं। अपने कामों के प्रति उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि रही है ओडिशा के बालासोर में आए समुद्री तूफान में लोगों के बीच राहत कार्य पहुंचाना। वे वाजपेयी के कार्यकाल में डिप्टी सेक्रेटरी बनाए गये थें । मालूम हो कि रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल से एमबीए और आईआईटी कानपुर से एम.टेक किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.