Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

समस्तीपुर: एक बार फिर खाकी हुआ शर्मसार,9500 रुपये घुस लेते दारोगा को SP ने किया गिफ्तार

बिहार में एक बार फिर से खाकी वर्दी ने लोगों को शर्मसार किया है. जिस पुलिस पर लोगों के सुरक्षा की जिम्मेवारी दी गई है उसी पर घूस लेने का आरोप लगा है.

1 175

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में एक बार फिर से खाकी वर्दी ने लोगों को शर्मसार किया है. जिस पुलिस पर लोगों के सुरक्षा की जिम्मेवारी दी गई है उसी पर घूस लेने का आरोप लगा है. यह घटना समस्तीपुर जिले के रोसड़ा थाना की है. थाना के सब इंस्पेक्टर श्रीनारायण सिंह द्वारा शराब कांड में संलिप्त अभियुक्त का मोटरसाइकिल जब्त किया गया था। लेकिन एसआई श्रीनारायण सिंह ने फोन कर उससे दस हजार रुपया मोटरसाइकिल छोड़ देने  के लिए मांग की. वैसे बताया जा रहा ही कि पहले अभियुक्त से 25 हजार रूपये की डिमांड की गई लेकिन अंततः बात जाकर दस हजार पर बना. वहीं इस घटना की पुरी जानकारी अभियुक्त ने पुलिस अधीक्षक समस्तीपुर को दी.

मिली जानकारी के मुताबिक़ इस पुरी घटना का वीडयो अभियुक्त ने बना ली और इसकी जानकारी किसी समाजसेवी के द्वारा  जिले के एसपी को दी. तत्काल जिले के एसपी मानव जीत सिंह ढिल्लों ने घटना के सत्यापन के लिए सादे लिबास में दो व्यक्ति को वीडियो बनाने के लिए प्रतिनियुक्त किया गया।मोटरसाइकिल छुड़वाने के लिए श्रीनारायण सिंह को ₹9500 सौ देते हुए वीडियो बनाया। तत्पश्चात सब इंस्पेक्टर पैसा लेने के बाद जब्त गाड़ी को बिना किसी कागज के छोड़ दिया।

एसपी मानव जीत सिंह ढिल्लों

मंगलवार की देर रात पुलिस अधीक्षक समस्तीपुर अपने दल बल के साथ रोसडा़ थाना पहुंचे और घटना का छानबीन कर सभी साक्ष्यों को प्रमाणित कर सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर लिया और अभियुक्त को जेल भेज दिया गया है. विजिलेंस कोर्ट मुजफ्फरपुर में प्राथमिकी दर्ज किया गया है जहा से इसकी पूरी करवाई की जाएगी। इस अभियान में समस्तीपुर एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों,अनुराधा सिंह,विजय कुमार, रोसड़ा अंचल सर्किल इंस्पेक्टर जय कांत साह घटना स्थल पर मौजूद रहे।

आपको बता दें कि यह पहली घटना नहीं है जब किसी पुलिस डिपार्टमेंट के अधिकारी को गिद्फ्तार किया गया है. ऐसी कई घटनाएं अक्सर आती हैं . लेकिन कुछ मामले दब जाते हैं और बाहर पुलिस के डर से भी नहीं आ पाते हैं. हालांकि इस घटना से पुलिस के साथ-साथ लोगों में भी एक सही सन्देश जाएगा और पुलिस के प्रति लोगों का विश्वास बढेगा.

Leave A Reply

Your email address will not be published.